- Advertisement -
HomeNewsAajkal Bharatपूछताछ के लिए व्यवस्थापक का रिमांड मंजूर

पूछताछ के लिए व्यवस्थापक का रिमांड मंजूर

- Advertisement -

पूछताछ के लिए व्यवस्थापक का रिमांड मंजूरहनुमानगढ़/ नोहर. क्षेत्र में मृत किसानों के नाम से फसली ऋण उठाने के मामला सामने आने के बाद पुलिस जांच में जुटी हुई है। मृतक के नाम से फर्जी तरीके से लोन उठाने व रुपए ऐंठने के मामले में पुलिस ने ग्राम सेवा सहकारी समिति देईदास के व्यवस्थापक नत्थाराम (३७) पुत्र देवीलाल जाट को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के लिए उसका रिमांड मंजूर करवा लिया गया है। एएसआई रोहिताश पूनिया ने बताया कि देईदास निवासी रामेश्वरी देवी पत्नी दलीप जाट ने ग्राम सेवा सहकारी समिति देईदास के व्यवस्थापक नत्थाराम पुत्र देवीलाल जाट व अध्यक्ष राजेन्द्र पुत्र चेतराम जाट के खिलाफ छलपूर्वक पति के नाम से लोन उठाने व रुपए ऐंठने का मामला दर्ज करवाया था। रामेश्वरी देवी ने पुलिस को बताया कि उसके पति दलीप पुत्र निराणाराम का निधन ३ मई 2०1७ को हो चुका है। उसके पति ने ग्राम सेवा सहकारी समिति से अल्पकालीन ऋण ले रखा था। इसकी अदायगी जून 2०1६ मेें ही कर दी गई थी। इसके बाद उसके पति के नाम से समिति का कोई ऋण बकाया नहीं था। 2५ फरवरी को कथित रूप से समिति का अध्यक्ष राजेन्द्र उनके घर आया। विधवाओं के लिए पैकेज की बात कह कर कागजात पर उसका अंगूठा लगवा कर ले गया। इस बात की जानकारी जब रामेश्वरी देवी ने पूर्व सरपंच रतनलाल ईशराम को दी तो उसने विधवाओं के लिए ऐसी कोई योजना नहीं होने की जानकारी दी। इसके बाद ज्ञात हुआ कि सहकारी समिति अध्यक्ष ने कथित रूप से ऋण माफी कागजात पर अंगूठा लगवा लिया। जबकि उसके पति पर समिति का कोई ऋण बकाया नहीं था। रामेश्वरी देवी ने मृत पति के नाम फर्जी तरीके से ५७७७५ रुपए का लोन उठाकर छलपूर्वक ऋण माफी कागजात पर अंगूठा लगाकर राशि डकारने के आरोप में समिति व्यवस्थापक नत्थाराम व अध्यक्ष राजेन्द्र कुमार पर आईपीसी की धारा ४2०, ४६७, ४७1 आदि में मामला दर्ज करवाया। एएसआई रोहिताश पूनियां ने बताया कि सहकारी समिति के व्यवस्थापक नत्थाराम को शनिवार को न्यायालय में पेश कर 2० मई तक उसका रिमांड मंजूर कराया।(नसं.)

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -