- Advertisement -
HomeRajasthan NewsSikar newsकोरोना वायरस के डर पर आस्था भारी, बिना मास्क के खाटूश्यामजी में...

कोरोना वायरस के डर पर आस्था भारी, बिना मास्क के खाटूश्यामजी में एक लाख श्रद्धालुओं ने नवाया शीश

- Advertisement -

सीकर.पूरी दुनिया जहां कोरोना (Corona Virus) के कहर से डरी हुई है। वहीं, हमारे देश में आस्था उस पर भारी पड़ती दिख रही है। खाटूश्यामजी (Khatushyamji) में इसका उदाहरण देखने को मिल रहा है। जहां कोरोना के डर से स्कूल, कॉलेज जरूर बंद है, लेकिन बाबा श्याम के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं का हुजूम कम होने की बजाय बढ़ता जा रहा है। बाबा श्याम का लक्खी मेला व यहां की प्रसिद्ध होली निकलने के बाद भी यहां दुनियाभर के लोगों के पहुंचने का सिलसिला जारी है। पिछले दो दिन की ही बात करें तो करीब एक लाख से भी ज्यादा श्रद्धालुओं ने बाबा श्याम के मंदिर पहुंचकर धोक लगाई है। इनमें से हजारों श्रद्धालुु तो रींगस से निशान लेकर पैदल चलकर श्याम नगरी पहुंचे। वहीं, यह सिलसिला समाचार लिखे जाने तक भी लगातार जारी है।
 
कुछ ही लगा रहे मास्क, बाकी को बाबा श्याम की आस
खाटू पहुंच रहे कुछेक भक्तों के मुंह पर ही मास्क नजर आया। पत्रिका को दिल्ली से आए प्रेम अग्रवाल ने बताया कि बाबा के दरबार में बीमारियां दूर हो जाती हैं। जयपुर के अमित शर्मा ने बताया कि खाटू के कण कण में श्याम बसा है तो बीमारी से क्यों डरना। कोलकाता की संतोष अग्रवाल ने बताया कि उन्होंने बाबा श्याम से इस बीमारी को जड़ से खत्म करने की कामना की है।
 
आदेशों की पालना नहीं तो कार्रवाई
कोरोना वायरस को लेकर मुख्यमंत्री ने रविवार शाम को जिला कलक्टर व चिकित्सा अधिकारियों से वीसी के जरिए चर्चा की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने जिला कलक्टरों को जागरुकता के लिए अभियान चलाने सहित अन्य निर्देश दिए। जिला कलक्टर यज्ञमित्र सिंह देव ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से जारी आदेशों की पालना नहीं करने वालों संस्थानों के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई की जाएगी।
 
निजी चिकित्सकों के साथ बैठक आज
जिला प्रशासन की ओर से कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए सोमवार दोपहर 12 बजे निजी चिकित्सकों व मेडिकल स्टोर संचालकों की बैठक होगी। सीएमएचओ डॉ चौधरी ने बताया कि जिला कलक्टर यज्ञ मित्र सिंह देव की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में पांच अहम मुद्दों पर चर्चा होगी।
 
विभाग अलर्ट, जागरुकता अभियान जारी
कोरोना वायरस को लेकर अब चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। जिले में स्वास्थ्य कर्मी, एएनएम व आशा सहयोगिनियों की ओर से गांव-ढाणियों में रविवार को भी जागरुकता अभियान चलाया गया। विदेश से आए यात्रियों के घर जाकर व पर्यटकों की होटल व उनके ठहरने वाले स्थानों पर जाकर स्क्रीनिंग की गई।

- Advertisement -
- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
- Advertisement -
Related News
- Advertisement -