अब डर को कहें बाय बाय..बेहिचक जनाना अस्पताल आएं प्रसूताएं, जानिए पूरी कहानी

0
Advertisement
class="adsbygoogle" style="background:none;display:inline-block;max-width:800px;width:100%;height:250px;max-height:250px;" data-ad-client="ca-pub-7665904324993199" data-ad-slot="5413907774" data-ad-format="auto" data-full-width-responsive="true">

सीकर. जनाना अस्पताल में आए दिन घट रही घटनाओं से प्रसूताओं में बढ़ रही असुरक्षा की भावना को देखते हुए सख्त कदम उठाए गए हैं। प्रसूताएं अब बेहिचक रहें क्योंकि पूरा अस्पताल अब निगाहबानी में रहेगा। अस्पताल के चप्पे चप्पे पर सुरक्षाकर्मी तो लगाए नहीं जा सकते लेकिन अब सीसीटीवी के रूप में नफरी जरूर लगाई गई है।दरअसल मुद्दे को लेकर आरएमआरएस की बैठक में गहन चिंता जताई गई। फिर यहां 32 सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्णय लिया गया। अब परिसर के विभिन्न वार्डो, प्रतिक्षालय व कक्षों में सीसीटीवी लगाने के बाद उसकी मानिटरिंग से सुरक्षा को लेकर चिंता काफी कम हो जाएगी। गौरतलब है कि चिकित्सालय परिसर में बाहरी लोगों के घुसकर वहां अव्यवस्था फैलाने के मामले आए थे।
और क्या-क्या…जिला नेहरू पार्क स्थित जनाना अस्पताल में महिला मरीजों की सुरक्षा को देखते हुए 32 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। कल्याण अस्पताल को बुधवार को नई एम्बुलेंस दी जाएगी। नेत्र संग्रहण केन्द्र का उद्घाटन मार्च माह के अंतिम सप्ताह में होगा। कल्याण अस्पताल और जनाना अस्पताल में लगी सभी मशीन या उपकरण का दस साल के लिए रखरखाव का अनिवार्य रूप से अनुबंध किया जाएगा। इन प्रस्तावों पर मंगलवार को जिला चिकित्सा सलाहकार समिति की बैठक में मुहर लगाई गई। बैठक में सीवरेज के काम की धीमी गति को देखते हुए कलक्टर यज्ञमित्र सिंहदेव ने नाराजगी जताई और निर्माण एजेंसी को 15 दिन में अस्पताल के सभी बाथरूम की नालियों को सीवरेज लाइन से जोडऩे के निर्देश दिए। बैठक में मेडिकल कॉलेज के प्रिंसीपल डॉ. केके वर्मा, पीएमओ अशोक चौधरी, अधिशाषी अभियन्ता ओपी वर्मा, डॉ. बीएल राड़, अरुण बैनर्जी मौजूद रहे।
बहुमंजिला स्टाफ क्वार्टरकल्याण अस्पताल के वार्डों को भामाशाहों को गोद दिया जाएगा। पावर ग्रिड कॉपोरेशन की ओर से कल्याण अस्पताल में दो कलर डॉप्लर व एक एम्बुलेंस बजट दिया जाएगा। सिल्वर जुबली रोड पर बने सीएमएचओ के बरसों पुराने सरकारी आवास को ध्वस्त कर बहुमंजिला स्टाफ क्वार्टर बनाने के लिए योजना तैयार की जाएगी। अस्पताल की पार्र्किंग व्यवस्था को सुधारने के लिए एक बार नए सिरे से कवायद होगी। बेतरतीब पार्र्किंग को देखते हुए कमेटी के सदस्य रोजाना मॉनिटरिंग करेंगे। अस्पताल के लिए कम्पयूटर ऑपरेटर और मल्टीटास्क वर्कर लिए जाएंगे। सांझी रसोई का अनुबंध बढ़ाया गया है।

Advertisement
Related Posts
class="adsbygoogle" style="background:none;display:inline-block;max-width:800px;width:100%;height:200px;max-height:200px;" data-ad-client="ca-pub-7665904324993199" data-ad-slot="5413907774" data-ad-format="auto" data-full-width-responsive="true">
Advertisement
class="adsbygoogle" style="background:none;display:inline-block;max-width:800px;width:100%;height:200px;max-height:200px;" data-ad-client="ca-pub-7665904324993199" data-ad-slot="5413907774" data-ad-format="auto" data-full-width-responsive="true">

Leave A Reply

Your email address will not be published.